कैसीनो 67 लाइव

कैसीनो 67 लाइव

time:2021-10-21 22:44:37 अगले 3-6 महीने में कोविड से पहले के स्तर पर पहुंच जाएगी कंपनियों की भर्ती : सर्वे Views:4591

स्टेटस इमेज कैसीनो 67 लाइव 10cric एपीके फ़ाइल,betway टिप्स,लियोवेगैस हैक,lovebet अल्टरनेटिफ,lovebet लॉगिन,lovebet वाउचर कोड,एक क्रिकेटर जिसकी गेंदबाजी का औसत 24.85 . है,बैकरेट कंप्यूटर गेम मास्टर,बैकारेट स्कोरबोर्ड,सट्टेबाजी सहायक ibook,कैसीनो 1995 मूवी डाउनलोड 480p,कैसीनो रोड modderfontein,चेसन प्लेस रिवरटन,क्रिकेट पूरी किट,descargar लाइव चैट रूले uptodown,यूरोपीय कप परिणाम,फुटबॉल मैं हूँ,गेमिंग आप आजमा सकते हैं,एचडी क्रिकेट ऐप,खेल सट्टेबाजी का परिचय,भारत में खजाना,लाइव लाठी bwin,लाइव रूले ऑफर,लॉटरी सांबद सुबह परिणाम,मोजू पूल रम्मी डाउनलोड,ऑनलाइन कैसीनो नीदरलैंड,ऑनलाइन ऑनलाइन गेम नेटवर्क,पी शतरंज,पोकर कार्ड युद्ध,लोकप्रिय फुटबॉल सट्टेबाजी मंच,शाही कबाब,रम्मी नबोबो,स्लॉट 3 कैट 2020,स्लॉट xqc,खेल.0l,टेक्सास होल्डम मूल बातें,बैकारेट करने का सबसे सुरक्षित तरीका,बैकारेट सॉफ्टवेयर के विश्लेषण के तरीके क्या हैं,विश्व फुटबॉल क्लब रैंकिंग,इंडियन रमी एप,कैसीनो के खेल english,गरेना टॉप अप सेंटर,जोकर भाई,फुटबॉल जर्सी फुल सेट,बेटा छुट्टी,लॉटरी punjab.com,स्पोर्ट्स चैनल मैच .अगले 3-6 महीने में कोविड से पहले के स्तर पर पहुंच जाएगी कंपनियों की भर्ती : सर्वे

इस सर्वे में देशभर के 1,327 रिक्रूटर्स और कंसल्‍टेंट्स ने हिस्सा लिया.
मुंबई : बाजार में हालात सुधरने के साथ कंपनियां भी नए साल में रिकवरी को लेकर आशावान हैं. करीब 26 फीसदी रिक्रूटर्स (नियोक्ताओं) को उम्मीद है कि अगले 3-6 महीने में भर्तियां कोविड से पहले के स्तर पर पहुंच सकती हैं.

वहीं, 34 फीसदी नियोक्ताओं का मानना है कि इसमें छह महीने से एक साल तक का समय लग सकता है. एक सर्वे में यह निष्कर्ष सामने आया है. रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : कितनी सेफ है आपकी जॉब? खतरों के इन 7 संकेतों के बारे में जान लें

कंपनी ने एक बयान में बताया कि इस सर्वे में देशभर के 1,327 रिक्रूटर्स और कंसल्‍टेंट्स ने हिस्सा लिया. नौकरी डॉट कॉम ने इसके अलावा अपने प्‍लेटफॉर्म पर उपलब्ध एक लाख से अधिक नियोक्ताओं के आंकड़ों का भी विश्लेषण किया.

कोविड से पहले का स्तर तय करने के लिए कंपनी ने जनवरी और फरवरी के रोजगार संबंधी आंकड़ों को आधार बनाया. सर्वेक्षण में पता चला कि मेडिकल/हेल्‍थकेयर, आईटी, बीपीओ/आईटीईएस जैसे उद्योगों पर कम प्रभाव पड़ा. लेकिन, खुदरा, हॉस्पिटैलिटी और ट्रैवल जैसे कुछ क्षेत्रों ने परिस्थिति का सामना करने में संघर्ष किया.

इसे भी पढ़ें : कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

इसमें कहा गया है कि 2020 की शुरुआत कुल मिलाकर सकारात्मक हुई. लेकिन, बाद में कोविड-19 ने इसे प्रभावित किया. लॉकडाउन के बाद इसमें ठहराव आया. पर, जून में अनलॉक की शुरुआत से ही रोजगार बाजार में सुधार भी होने लगा.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

नौकरी डॉट कॉमहायरिंग आउटलुक सर्वेरोजगार बाजारकोविड से पहले का स्‍तरभर्ती

ETPrime stories of the day

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’
Strategy

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’

8 mins read
Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle
Aviation

Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle

10 mins read
Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.
Banking

Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.

15 mins read

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी गेल (इंडिया) लिमिटेड देश का सबसे बड़ा हरित हाइड्रोजन बनाने का संयंत्र लगाएगी। कंपनी का लक्ष्य कार्बन मुक्त ईंधन के साथ अपने प्राकृतिक गैस कारोबार को बढ़ाना है, इसी को ध्यान में रखकर हाइड्रोजन संयंत्र लगाने की योजना बनायी गयी है। गेल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मनोज जैन ने सेरावीक के इंडिया एनर्जी फोरम में कहा कि कंपनी ने इलेक्ट्रोलाइजर खरीदने के लिए एक वैश्विक निविदा जारी की है। उन्होंने कहा, ‘‘संयंत्र लगाने में 12-14महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.हाजिर मांग से सोना वायदा कीमतों में तेजी

जब संस्‍थान में किसी कर्मचारी को नौकरी छोड़ने के लिए कहा जाता है तो वे आमतौर पर चौंक जाते हैं. लेकिन, कई मामलों में इसके संकेत पहले से मिलने लगते हैं. बात सिर्फ इतनी होती है कि कर्मचारी इन संकेतों का मतलब समझकर सुधार की दिशा में कदम नहीं उठा पाते हैं. आइए, यहां ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में जानते हैं.कोलकाता, 21 अक्टूबर (भाषा) पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा ने बृहस्पतिवार को तीन अलग-अलग अध्ययनों का हवाला देते हुए दावा किया कि नरेंद्र मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान 2014 से 2020 के बीच उच्च नेटवर्थ वाले 35,000 भारतीय उद्यमियों ने देश छोड़ दिया।उन्होंने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि क्या यह "भय की मनोवृति" के कारण हुआ। उन्होंने मांग की कि प्रधानमंत्री मोदी "अपने शासन के दौरान भारतीय उद्यमियों के भारी पलायन" पर संसद में एक श्वेत पत्र पेश करें। मित्रा ने ट्विटर पर लिखा, "मोदी सरकार के तहत उच्च नेटवर्थ वाले 35,000 भारतीय उद्यमियों ने 2014-2020 केबैंक ऑफ महाराष्ट्र का दूसरी तिमाही में शुद्ध लाभ दोगुना बढ़कर 264 करोड़ रुपये

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) जेएसडब्ल्यू स्टील ने बृहस्पतिवार को कहा कि 30 सितंबर को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ चार गुना से अधिक की वृद्धि के साथ 7,179 करोड़ रुपये रहा। लाभ में शानदार वृद्धि की वजह कंपनी की ऊंची आय है। कंपनी ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि उसने पिछले वित्त वर्ष 2020-21 की जुलाई-सितंबर तिमाही में 1,595 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हासिल किया था। समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की कुल आय एक साल पहले की समान अवधि के 19,416 करोड़ रुपये से बढ़कर 33,449 करोड़ रुपये होदिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
फीनिक्स फोर्ज

अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है.

बैकारेट में खिलाड़ी अनुपात

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बृहस्पतिवार को भरोसा जताया कि भारत 2024-25 तक 5,000 अरब अमेरिकी डॉलर और 2030 तक 10,000 अरब अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा। उन्होंने पीएएफआई इंडिया के एक सम्मेलन में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए कहा, ‘‘आर्थिक वृद्धि में तेजी आ रही है। भारत 2024-25 तक 5,000 अरब अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था और 2030 तक 10,000 अरब अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर है।’’ पुरी ने भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन के विनिवेश पर कहा, ‘‘सभी की प्रतिक्रिया के आधार पर अच्छी तरह आगे बढ़ा जा रहा है...’’ पेट्रोलियम एवं

casumo उत्तर स्विश

अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है.

शुआंगसेकिउ पर ऑनलाइन बेट कैसे लगाएं

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी गेल (इंडिया) लिमिटेड देश का सबसे बड़ा हरित हाइड्रोजन बनाने का संयंत्र लगाएगी। कंपनी का लक्ष्य कार्बन मुक्त ईंधन के साथ अपने प्राकृतिक गैस कारोबार को बढ़ाना है, इसी को ध्यान में रखकर हाइड्रोजन संयंत्र लगाने की योजना बनायी गयी है। गेल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मनोज जैन ने सेरावीक के इंडिया एनर्जी फोरम में कहा कि कंपनी ने इलेक्ट्रोलाइजर खरीदने के लिए एक वैश्विक निविदा जारी की है। उन्होंने कहा, ‘‘संयंत्र लगाने में 12-14

क्रिकेट 8k वॉलपेपर

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) वित्तीय खुफिया इकाई (एफआईयू) ने बृहस्पतिवार को दिल्ली उच्च न्यायालय को बताया कि धनशोधन गतिविधियों के लिए अमेरिकी ऑनलाइन भुगतान गेटवे पेपाल का दुरुपयोग किया है और उसने सीलबंद लिफाफे में कुछ दस्तावेज पेश करने की इजाजत मांगी। न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने हालांकि कहा कि सीलबंद लिफाफे में दस्तावेज दाखिल करने की अनुमति मांगने वाला आवेदन रिकॉर्ड में नहीं है और उन्होंने मामले को अगले साल 11 जनवरी को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया। अदालत धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के कथित उल्लंघन के लिए पेपाल पर एफआईयू द्वारा लगाए गए 96 लाख रुपये के जुर्माने को

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
बेटा ट्यून

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बृहस्पतिवार को बहुस्तरीय संपर्क प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान को मंजूरी दी। इसमें कार्यान्वयन, निगरानी और समर्थन तंत्र शामिल हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 अक्टूबर को ‘लॉजिस्टिक’ लागत को कम करने और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने वाले बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए 100 लाख करोड़ रुपये के राष्ट्रीय मास्टर प्लान की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत ‘लॉजिस्टिक’ लागत में कटौती, कार्गो प्रबंधन क्षमता में वृद्धि और माल उतारने या लादने में लगने वाले समय को कम करने का लक्ष्य तय किया गया है। आधिकारिक

पुलिस चेस

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) वित्तीय खुफिया इकाई (एफआईयू) ने बृहस्पतिवार को दिल्ली उच्च न्यायालय को बताया कि धनशोधन गतिविधियों के लिए अमेरिकी ऑनलाइन भुगतान गेटवे पेपाल का दुरुपयोग किया है और उसने सीलबंद लिफाफे में कुछ दस्तावेज पेश करने की इजाजत मांगी। न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने हालांकि कहा कि सीलबंद लिफाफे में दस्तावेज दाखिल करने की अनुमति मांगने वाला आवेदन रिकॉर्ड में नहीं है और उन्होंने मामले को अगले साल 11 जनवरी को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया। अदालत धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के कथित उल्लंघन के लिए पेपाल पर एफआईयू द्वारा लगाए गए 96 लाख रुपये के जुर्माने को

परिमच सुरक्षित है

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) एसएंडपी ग्लोबल रेटिंग्स ने बृहस्पतिवार को टाटा स्टील, टाटा मोटर्स और जगुआर लैंड रोवर (जेएलआर) सहित टाटा समूह की पांच कंपनियों की रेटिंग में सुधार किया। यह टाटा समूह के मौजूदा प्रभाव के उसके पुनर्मूल्याकंन और होल्डिंग कंपनी टाटा सन्स से मिलने वाली 'असाधारण वित्तीय सहायता' की क्षमता को दर्शाता है। एसएंडपी ग्लोबल ने रेटिंग में बदलाव करते हुए कहा कि टाटा स्टील लि. और उसकी 100 प्रतिशत स्वामित्व वाली वित्तीय अनुषंगी एबीजेए इन्वेस्टमेंट कंपनी प्राइवेट लि. की रेटिंग को स्थिर परिदृश्य के साथ 'बीबी' से बढ़ाकर 'बीबीबी-' किया है। इसी तरह, टाटा मोटर्स लिमिटेड और