जोकर रिंगटोन डाउनलोड 2020

Publishing time:2021-10-21 22:42:16

क्रिकेट बकसुआ किताब जोकर रिंगटोन डाउनलोड 2020 betway जमा बोनस,fun88 नया ग्राहक ऑफर,lovebet 4.5/5,lovebet हिल,lovebet टा फोरा दो अरे,1xbet लाइव कैसीनो,शामिल होने के लिए बैकरेट एजेंट,बैकारेट वन पीस एज,सबसे अच्छा लाइव लाठी ऐप,किताब क्रिकेट जाल,कैसीनो काटजा,शतरंज एक खेल,क्रिकेट बुक कवर,क्रिकेट x,यूरोपीय सट्टेबाजी कंपनियां,फुटबॉल बी गैप,जी शतरंज,खुश किसान फेसबुक,मैं कैसीनो परिभाषा,जे स्लॉट,ला शतरंज बार,लाइव कैसीनो युद्ध,लॉटरी का खेल दिखाओ,लूडो विंज़ो,ऑनलाइन नकद सट्टेबाजी नेटवर्क,ऑनलाइन गेम पोकी,दक्षिण अफ्रीका में ऑनलाइन स्लॉट,बिंदु प्रणाली जिन रम्मी,पोकर युद्ध हमें,रूले ऑनलाइन रहते हैं,रम्मी सर्कल मोबाइल,रम्मीकल्चर श्याओमी,स्लॉट्स एम्पायर नो डिपॉजिट बोनस कोड 2021,खेल समाचार लाइव,तीन पत्ती ड्रैगन टाइगर,सबसे गर्म ऑनलाइन बोर्ड गेम,आभासी किताब क्रिकेट,वाइल्डज़ बोनसकुडी,da लॉटरी संगबाद,करीना चार्ट,क्रिकेट भाव,चेहरे का बदलाव २,परिवार quote,बरसात बॉबी देओल की,रमी फोटो,स्टेटस थॉट, .कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में न्‍यूनतम मजदूरी में 15-20 फीसदी का इजाफा हुआ है.
मुंबई : पिछले कुछ महीनों में कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में काम करने वाले वर्कर्स की न्‍यूनतम दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी है. ये रियल एस्‍टेट, इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, सीमेंट, स्‍टील, सड़क एवं हाईवे और शहरी विकास परियोजनाओं में काम करते हैं. मजदूरी में बढ़ोतरी की वजह लेबरों की कमी है. कंपनियों ने अपने पुराने प्रोजेक्‍टों को पूरा करने के लिए काम की रफ्तार बढ़ाई है.

कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में न्‍यूनतम मजदूरी में 15-20 फीसदी का इजाफा हुआ है. इस सेक्‍टर में करीब 5 करोड़ लोग काम करते हैं. मानव संसाधन प्रबंधन फर्म बेटरप्‍लेस के अनुमान के अनुसार, महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.

इसे भी पढ़ें : कोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत?

मजदूरों को सबसे ज्‍यादा रोजगार कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में मिलता है. यह सेक्‍टर काफी कुछ असंगठित है. ज्‍यादातर वर्कर्स दिहाड़ी मजदूरी पर काम करते हैं. बेटरप्‍लेस के सीओओ सौरभ टंडन ने कहा कि लेबर की किल्‍लत के चलते कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में मजदूरी बढ़ी है. कंपन‍ियां तेजी से अपनी लंबित परियोजनाओं को पूरा करना चाहती हैं.

टॉप एग्‍जीक्‍यूटिव्‍ज के अनुसार, कुशल कामगारों की भारी किल्‍लत है. कारण है कि महामारी के बाद बड़ी संख्‍या में मजदूर अपने-अपने घरों से वापस नहीं लौटे हैं. रियल एस्‍टेट डेवलपर हीरानंदानी ग्रुप के एमडी निरंजन हीरानंदानी ने कहा कि हम बाहर से कुशल कारीगरों को लाने की कोशिश कर रहे हैं. ये ज्‍यादा मजदूरी की मांग करते हैं. इससे कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में औसत मजदूरी बढ़ी है. कुशल श्रमिकों की कमी सिर्फ रियल एस्‍टेट की समस्‍या नहीं है, बल्कि यह दिक्‍कत हर सेक्‍टर की है. बहुत कम लोगों के पास काम की कुशलता होती है.

इसे भी पढ़ें : सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रोजेक्‍टों के बिल्‍डर केईसी इंटरनेशनल के सीईओ विमल केजरीवाल ने कहा कि फिटर और कारपेंटर जैसे कुशल कामगारों की मजदूरी 10-20 फीसदी बढ़ गई है. काम ज्‍यादा है. लंबित परियोजनाओं को पूरा करने का दबाव है. सभी साइटों पर पूरी क्षमता के साथ काम हो रहा है.

इंडस्‍ट्री के जानकार कहते हैं कि मध्‍यम और छोटे संस्‍थान जिनमें लॉकडाउन की शुरुआत में वर्कर्स को रोक पाने की क्षमता नहीं थी, उन्‍हें लेबरों को मंगाने में ज्‍यादा खर्च करना पड़ रहा है. कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर की बड़ी कंपनियों ने खाने-पीने और रहने की व्‍यवस्‍था उपलब्‍ध कराकर अपने वर्कर्स को बनाए रखा.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

द‍िहाड़ी मजदूरीमजदूरी में इजाफान्‍यूनतम द‍िहाड़ीकंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टरलेबरों की किल्‍लत

ETPrime stories of the day

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game
Artificial intelligence

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game

15 mins read
MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?
Investing

MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?

10 mins read
कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) विदेशी बाजारों में कमजोर रुख के बीच दिल्ली में बृहस्पतिवार को सोयाबीन तेल तिलहन, पामोलीन और सीपीओ तेल कीमतों में गिरावट आयी। जबकि जयपुर में सरसों के भाव 150 रुपये मजबूत होने से सरसों तेल-तिलहन में सुधार आया। मूंगफली और बिनौला सहित विभिन्न खाद्य तेल-तिलहन के भाव पूर्ववत बने रहे। बाजार सूत्रों ने कहा कि मलेशिया एक्सचेंज में दो प्रतिशत की गिरावट है जबकि बुधवार रात 3.5 प्रतिशत की तेजी दर्ज करने के बाद शिकागो एक्सचेंज में फिलहाल 1.4 प्रतिशत की गिरावट है। लेकिन दूसरी तरफ जयपुर के हाजिर बाजार में सरसों का भाव बृहस्पतिवार कोनयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) विदेशी बाजारों में कमजोर रुख के बीच दिल्ली में बृहस्पतिवार को सोयाबीन तेल तिलहन, पामोलीन और सीपीओ तेल कीमतों में गिरावट आयी। जबकि जयपुर में सरसों के भाव 150 रुपये मजबूत होने से सरसों तेल-तिलहन में सुधार आया। मूंगफली और बिनौला सहित विभिन्न खाद्य तेल-तिलहन के भाव पूर्ववत बने रहे। बाजार सूत्रों ने कहा कि मलेशिया एक्सचेंज में दो प्रतिशत की गिरावट है जबकि बुधवार रात 3.5 प्रतिशत की तेजी दर्ज करने के बाद शिकागो एक्सचेंज में फिलहाल 1.4 प्रतिशत की गिरावट है। लेकिन दूसरी तरफ जयपुर के हाजिर बाजार में सरसों का भाव बृहस्पतिवार कोकितनी सेफ है आपकी जॉब? खतरों के इन 7 संकेतों के बारे में जान लें

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बृहस्पतिवार को भरोसा जताया कि भारत 2024-25 तक 5,000 अरब अमेरिकी डॉलर और 2030 तक 10,000 अरब अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा। उन्होंने पीएएफआई इंडिया के एक सम्मेलन में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए कहा, ‘‘आर्थिक वृद्धि में तेजी आ रही है। भारत 2024-25 तक 5,000 अरब अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था और 2030 तक 10,000 अरब अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर है।’’ पुरी ने भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन के विनिवेश पर कहा, ‘‘सभी की प्रतिक्रिया के आधार पर अच्छी तरह आगे बढ़ा जा रहा है...’’ पेट्रोलियम एवंनयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) आईडीबीआई बैंक का शुद्ध लाभ 30 सितंबर को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 75 प्रतिशत बढ़कर 567 करोड़ रुपये हो गया।भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) नियंत्रित बैंक ने पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि (जुलाई-सितंबर) में 324 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था।हालांकि, तिमाही के दौरान बैंक की कुल आय एक साल पहले की समान तिमाही की तुलना में 10 प्रतिशत घटकर 5,000.64 करोड़ रुपये हो गयी। पिछले साल (जुलाई-सितंबर 2020) यह 5,569.35 करोड़ रुपये थी।निजी क्षेत्र के बैंक ने एक बयान में कहा कि जुलाई-सितंबर 2021 तिमाही के दौरान उसकी शुद्धगेल देश का सबसे बड़ा हरित हाइड्रोजन संयंत्र लगाएगी

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) कमजोर हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को घटाया जिससे वायदा कारोबार में बृहस्पतिवार को चांदी की कीमत 292 रुपये की गिरावट के साथ 65,315 रुपये प्रति किलो रह गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के दिसंबर डिलीवरी वाले वायदा अनुबंध का भाव 292 रुपये यानी 0.45 प्रतिशत घटकर 65,315 रुपये प्रति किलो रह गया। इस वायदा अनुबंध में 9,428 लॉट के लिये सौदे किये गये। वैश्विक स्तर पर, न्यूयार्क में चांदी का भाव 0.68 प्रतिशत की गिरावट के साथ 24.28 डालर प्रति औंस रह गया।अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है.दिवाली से पहले बैंक कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, 15% बढ़ेगा वेतन

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


नवीनतम फुटबॉल स्कोर लाइव
कैसीनो 999
कैसीनो वुडबाइन
क्या भारत में ऑनलाइन जुआ कानूनी है?
रमी वेरिएंट प्रश्नोत्तरी
जोकर टिक टॉक
लॉटरी खेल आज का
betway केन्या लॉगिन
रम्मी विविधताएं
खेल 77
नियम शून्य उत्पाद
lovebet ई स्पोर्ट्स
लाटरी टिकट
आँखे स्टेटस
fun88 मूल
बेटिंग आर्केड को कैसे क्रैक करें
ई क्रिकेट चुनौती
यूरोपीय कप अनुसूची अंक
स्लॉट 7 कैसीनो बोनस कोड
मोबाइल रम्मी साइट
10cric शिकायतें
बैकारेट केतली
आभासी क्रिकेट प्रश्नोत्तरी
बैकरेट सिंगल जंप प्रायिकता
कैसीनो मुक्त बोनस
बकरा स्वरागिनी
बॉन्स ग्लासनेविन