हमें कैसीनो ऑनलाइन असली पैसा

हमें कैसीनो ऑनलाइन असली पैसा

time:2021-10-21 21:55:41 रोजगार के हालात में आ रहा सुधार, ईपीएफओ के आंकड़ों से मिले संकेत Views:4591

उत्पत्ति कैसीनो माल्टा हमें कैसीनो ऑनलाइन असली पैसा betway स्पोर्ट्स,लियोवेगास गेल्ड ज़ुरुकफ़ोर्डर्न,lovebet खाता बंद,lovebet लाइव चैट,lovebet विन,टाइम्स स्क्वायर में एक क्रिकेट,बैकारेट चिप्स,बैकरेट मार्ग विश्लेषण कौशल,सट्टेबाजी APK,कैसीनो 11,कैसीनो रेस्टोरेंट,चेसिंगटन रोड ईवेल,क्रिकेट जुड़नार,डेलावेयर फुटबॉल लॉटरी स्थान,यूरोपीय कप पुरस्कार भविष्यवाणी,फुटबॉल बाधा तकनीकी विश्लेषण,गेमिंग रेटिंग एजेंसी,एचडी शतरंज पृष्ठभूमि,तत्काल जैकपॉट खेल,जैकपॉट हिंदी तस्वीर,लाइव लाठी सट्टेबाजी,लाइव रूले नेटेंट,लॉटरी सांबद अध्याय,मोबाइल रम्मी साइट,ऑनलाइन कैसीनो एमआईटी पेपैल,ऑनलाइन पैसे जुआ युक्तियाँ,सबसे अच्छी प्रतिष्ठा वाला खाता खोलें,पोकर बॉक्स,पूल रम्मी xyz,शाही होटल,रमी आधुनिक ऐप डाउनलोड,स्लॉट .018 बनाम .022,स्लॉट्स विला नो डिपॉजिट बोनस,खेल क्षेत्र अदूर,कंप्यूटर के खिलाफ टेक्सास होल्डम,रम्मी फेडरेशन इंडिया,बैकारेट खेलने के तरीके,विश्व प्रसिद्ध सट्टेबाजी कंपनी,आगे जाकर,कैसीनो के खेल book,खेलो पर जुआ whatsapp,जोकर फेस,फुटबॉल चुंबन शुद्ध,बेटा घाटी,लेइ यू मुन,स्पोर्ट्स गेम, .रोजगार के हालात में आ रहा सुधार, ईपीएफओ के आंकड़ों से मिले संकेत

आंकड़ों से पता चलता है कि अप्रैल में भारी गिरावट के बाद फॉर्मल एम्‍प्‍लॉयमेंट (संगठित रोजगार) के हालात सामान्‍य हो रहे हैं.
नई दिल्‍ली : देशभर में लॉकडाउन के चलते लाखों लोगों की नौकरियां चली गई थीं. अब स्थिति सुधरती दिख रही है. आंकड़ों से पता चलता है कि अप्रैल में भारी गिरावट के बाद फॉर्मल एम्‍प्‍लॉयमेंट (संगठित रोजगार) के हालात सामान्‍य हो रहे हैं. इसके शुरुआती संकेत मिलने लगे हैं. जिन लोगों ने कर्मचारी भविष्‍य निधि (ईपीएफ) स्‍कीम को छोड़ा था, वे वापस इससे जुड़ रहे हैं. इस साल जून में ऐसे मेंबर्स की संख्‍या अब तक सबसे ज्‍यादा रही है. वहीं, स्‍कीम छोड़ने वालों की संख्‍या में भी तेज गिरावट आई है.

जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है. आधिकारिक आंकड़ों से इसका पता चलता है. पेरोल के आंकड़े दिखाते हैं कि जून में स्‍कीम से 4.54 लाख मेंबर्स ईपीएफओ से निकले और दोबारा से जुड़ गए. मई में यह आंकड़ा 3.14 लाख और अप्रैल में 2.51 लाख रहा था. पिछले वित्‍त वर्ष में यह औसत 6.5 लाख रहा है.

इसे भी पढ़ें : इस साल हर दस में से सिर्फ 4 कंपनी ने दिया इंक्रीमेंट : सर्वे

स्‍कीम से निकलने वालों की संख्‍या में भी गिरावट आई है. जून में यह 2.99 लाख रही है. इसकी तुलना में मई में यह 4.45 लाख और अप्रैल में 4.08 लाख रही थी. ये आंकड़े देश में संगठित क्षेत्र में रोजगार की स्थिति को बयान करते हैं.

जून में ईपीएफओ से कुल 6.55 लाख नए सब्‍सक्राइबर जुड़े. अप्रैल में यह संख्‍या महज 20 हजार और मई में 1.72 लाख रही थी. केंद्रीय सांख्यिकी और कार्यक्रम कियान्‍वयन मंत्रालय के आंकड़ों से इसका पता चलता है. वित्‍त वर्ष 2019-20 में औसतन हर महीने 10 लाख नए सब्‍सक्राइबर स्‍कीम से जुड़े. वहीं, जून 2019 में कुल 12 लाख लोग स्‍कीम से जुड़े थे.

इसे भी पढ़ें : इन 8 वेबसाइट से आप कर सकते हैं ऑनलाइन कोर्स, करियर संवारने में मिलेगी मदद

25 मार्च से देश में तीन हफ्तों के लिए देशभर में लॉकडाउन कर दिया गया था. इसे बाद में कुछ रियायतों के साथ बढ़ाया जाता रहा. एक मई से सरकार ने अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की. इसके तहत चरणबद्ध तरीके से बंदिशों को हटाया जा रहा है.

आंकड़ों के अनुसार, जून में ईएसआईसी से जुड़ने वालों की संख्‍या 7.92 लाख रही. में यह 4.76 लाख, जबकि अप्रैल में 2.58 लाख थी. वैसे, नए लोगों के जुड़ने का आंकड़ा कोरोना से पहले के स्‍तर से अब भी कम है. 2019-20 में स्‍कीम से हर महीने जुड़ने वालों का औसत आंकड़ा 12 लाख से ज्‍यादा था.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

रोजगार के हालातईपीएफओईएसआईसीकर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीमकर्मचारी भविष्‍य न‍िधि संगठन

ETPrime stories of the day

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game
Artificial intelligence

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game

15 mins read
MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?
Investing

MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?

10 mins read

रीइंश्‍योरेंस कंपनियों के रेट जीवन प्रत्‍याशा यानी लाइफ एक्‍सपेक्‍टेंसी पर आधारित होते हैं. यह एक लंबी अवधि का ट्रेंड होता है.सैलरी कब अपने स्‍तर पर लौटेंगी, यह आर्थिक गतिविधियों के बहाल होने पर निर्भर करेगा. डेलॉयट के सर्वे में शामिल 75 फीसदी संस्‍थानों ने मौजूदा अनिश्चितता को देखते हुए वेतनवृद्धि में किसी तरह के अनुमान जाहिर करने से इंकार कर दिया.एसबीआई इस साल 14,000 लोगों की भर्ती करेगा

इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.सैलरी कब अपने स्‍तर पर लौटेंगी, यह आर्थिक गतिविधियों के बहाल होने पर निर्भर करेगा. डेलॉयट के सर्वे में शामिल 75 फीसदी संस्‍थानों ने मौजूदा अनिश्चितता को देखते हुए वेतनवृद्धि में किसी तरह के अनुमान जाहिर करने से इंकार कर दिया.रोजगार के हालात में आ रहा सुधार, ईपीएफओ के आंकड़ों से मिले संकेत

क्‍या इस वैलेंटाइन डे पर अपने पाटर्नर को खुश करने के लिए आपने गिफ्ट सेलेक्‍ट कर लिया है? नहीं, तो यहां हम आपको ट्रेडिशनल गिफ्ट से अलग हटकर कुछ ऐसे तोहफों के बारे में बता रहे हैं जो शायद आपके साथी को खूब पसंद आए.रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी.सितंबर में नियुक्ति गतिविधियों में 24% की बढ़ोतरी : रिपोर्ट

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
रूले प्रश्न

जून में गिरावट के बाद पिछले दो महीनों में एक्टिव जॉब ओपनिंग्‍स में 74 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. कंपनियों को कोविड की महामारी खत्‍म होने के बाद प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने की उम्‍मीद है. वे इसके लिए खुद को तैयार रखना चाहती हैं.

कैसीनो सी ऑनलाइन खेल

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.

बैकरेट रोड रिकॉर्ड सॉफ्टवेयर

कई लोग छु‍ट्टी मनाने के लिए अब बाहर निकलने लगे हैं. यह अलग बात है कि कोविड-19 का डर अब भी बना हुआ है. ऐसे में सुरक्षा की अनदेखी करना सही नहीं है. यहां हम ऐसे कुछ गैजेट्स और एक्‍सेसरीज के बारे में बता रहे हैं जो आपकी ट्रिप को सुरक्षित बनाने में मदद करेंगे.

लीवगैस स्टॉक

एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है.

स्लॉट मशीन जैकपॉट्स

रीइंश्‍योरेंस कंपनियों के रेट जीवन प्रत्‍याशा यानी लाइफ एक्‍सपेक्‍टेंसी पर आधारित होते हैं. यह एक लंबी अवधि का ट्रेंड होता है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी