www.junglee rummy.com एक्सेस करने के लिए

www.junglee rummy.com एक्सेस करने के लिए

time:2021-10-18 06:40:28 हर्ष गोयनका ने ट्विटर पर एप्पल की ली चुटकी, यूजर्स ने ​ऐसे किया रिएक्ट Views:4591

टेक्सास होल्डम लास वेगास www.junglee rummy.com एक्सेस करने के लिए 10cric मुक्त शर्त,betway जाम्बिया संपर्क,लियोवेगास लोगो,lovebet बैंक निकासी समय,lovebet एमके,lovebet x10,ए+ क्रिकेट बैट,बैकारेट केबल विधि में विस्फोट नहीं करता है,बैकरेट आपूर्ति,बेटिंग फ्री टिप्स,कैसीनो 777 फ़ॉन्ट,कैसीनो स्ट्रीट ग्लेनवुड,क्लासिक रम्मी डाउनलोड लिंक,क्रिकेट हिंदी समाचार,क्या कोई ऑनलाइन बैकरेट खेलता है,यूरोपीय फुटबॉल कप प्रश्नोत्तरी,फुटबॉल लॉटरी परिणाम,उत्पत्ति कैसीनो मुक्त स्पिन कोई जमा नहीं,कैसे के बारे में रूसी रूले,आईपीएल फाइनल 2019,जैकपॉट क्यू एस,लाइव लाठी kostenlos,लाइव रूले यूएसए,लॉटरी यूएसए ग्रीन कार्ड,ना कैसीनो,ऑनलाइन कैसीनो असली पैसा भारत,ऑनलाइन पोकर इक्विटी कैलकुलेटर,पैरिमैच कैसीनो,पोकर इंजन,आर कैसीनो रोयाले अरेबियन स्टालियन,ru.pokerprolabs,रम्मी अनुक्रम,स्लॉट मशीन इमोजी,स्पीडी 7 लवबेट,स्पोर्ट्सबुक डीटीसी,टेक्सास होल्डम गेम ऐप,बैकारेट के हजारों तरीके,बैकारेट बैंकर एंड प्लेयर का क्या मतलब है?,एक्स कैसीनो,इलेक्ट्रॉनिक खेल nc,कैसीनो के खेल whatsapp,गोवा उच्चतम न्यायालय,जोकि यूट्यूब पर,फुटबॉल मैच 2020,बेटा धर्मयुद्ध जिंदाबाद,लॉटरी खेल youtube,स्पोर्ट्स यादव .हर्ष गोयनका ने ट्विटर पर एप्पल की ली चुटकी, यूजर्स ने ​ऐसे किया रिएक्ट

नई दिल्ली
नामी उद्योगपति और आरपीजी एंटरप्राइजेज के चेयरमैन हर्ष गोयनका (Harsh Goenka) ट्विटर पर खासा एक्टिव रहते हैं। उनके ट्वीट पर यूजर्स का रिएक्शन भी तगड़ा रहता है। हर्ष गोयनका ने ताजा ट्वीट आईफोन मेकर एप्पल (Apple) को लेकर किया है। ट्वीट में गोयनका ने एक एप्पल मग की फोटो शेयर करते हुए लिखा है, 'सीक्रेट ऑफ हाउ एप्पल मेक्स मनी' यानी एप्पल का पैसा बनाने का राज।


किस तरफ इशारा कर रहा है यह ट्वीट
हर्ष गोयनका ने ट्विटर पर जो मीम शेयर किया है, वह काफी वक्त से चल रहा है। दरअसल यह मीम, नए आईफोन के साथ अब चार्जर और ईयरफोन नहीं आने को लेकर है। एप्पल ने पिछले साल से नए आईफोन के बॉक्स में चार्जर और ईयरफोन शामिल करना बंद कर दिया है। अब नए आईफोन के बॉक्स में केवल आईफोन और एक यूएसबी केबल या चार्जिंग केबल रहती है। ऐसे में अगर किसी के पास पहले से कोई चार्जर नहीं है और उसने नया आईफोन खरीदा है तो उसे चार्जर अलग से लेना होगा, यानी और खर्चा। इसी तरह अगर पहले से आईफोन के साथ कनेक्ट हो सकने वाले ईयरफोन नहीं हैं तो वे भी लेने होंगे यानी और ज्यादा खर्चा। मतलब पहले जो चीजें आपको नए आईफोन की कीमत में बंडल में मिल जाती थीं, अब आपको उनके लिए अलग से खर्चा करना होगा। यही एप्पल मग मीम का मतलब है।

यूजर्स के रिएक्शंस
हर्ष गोयनका के ट्वीट पर यूजर्स ने अलग-अलग तरह के रिएक्शन दिए हैं।

'वह दिन दूर नहीं, जब आईफोन और उसका बॉक्स अलग—अलग बिकेगा'

'कुछ कारों के स्पेयर पार्ट, कारों से भी ज्यादा महंगे'

'टायर भी बनाते हैं पैसा'
गोयनका के ट्वीट पर एक यूजर ने उन्हें ही आड़े हाथों लेते हुए रिप्लाई किया कि टायर कंपनियां भी अलग से पैसा बनाती हैं। बता दें कि हर्ष गोयनका का आरपीजी ग्रुप, सिएट टायर्स का ओनर है।



टॉपिक

harsh goenka shares meme on appleharsh goenkaharsh goenka new tweetharsh goenka new twitter postapple mug memeहर्ष गोयनकाहर्ष गोयनका का नया ट्वीटहर्ष गोयनका ने एप्पल पर मीम किया शेयरहर्ष गोयनका की नई ट्विटर पोस्टएप्पल मग मीम

ETPrime stories of the day

Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.
Auto

Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.

12 mins read
Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past
Investing

Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past

14 mins read
Air India sale: With the government exiting Maharaja’s cockpit, can Tatas pilot the airline to glory?
Aviation

Air India sale: With the government exiting Maharaja’s cockpit, can Tatas pilot the airline to glory?

14 mins read

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड कोषों (ईटीएफ) में सितंबर में 446 करोड़ रुपये का निवेश आया। देश में त्योहारी सीजन के मद्देनजर मजबूत मांग के चलते निवेश का यह प्रवाह अभी जारी रहने की उम्मीद है। इससे पिछले महीने गोल्ड ईटीएफ में 24 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश आया था। एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के अनुसार, जुलाई में गोल्ड ईटीएफ से निवेशकों ने शुद्ध रूप से 61.5 करोड़ रुपये की निकासी की थी। गोल्ड ईटीएफ श्रेणी में अबतक शुद्ध रूप से 3,515 करोड़ रुपये का निवेश मिला है। सिर्फ जुलाई ऐसावित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई.म्‍यूचुअल फंडों के एक्सपेंस रेशियो के बारे में यहां जानिए सब कुछ

वित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई.नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) शेयर बाजारों की दिशा इस सप्ताह कंपनियों के तिमाही नतीजों तथा वैश्विक संकेतकों से तय होगी। विश्लेषकों ने यह राय जताई है। इस समय शेयर बाजार रिकॉर्ड ऊंचाई पर हैं। सैमको सिक्योरिटीज में इक्विटी शोध प्रमुख येशा शाह ने कहा, ‘‘कंपनियों के तिमाही नतीजे इस सप्ताह शेयर बाजारों का रुख तय करेंगे। इस सप्ताह सभी की निगाह इनपर रहेगी। इसके अलावा दलाल स्ट्रीट की निगाह कंपनियों के प्रबंधन की भविष्य की आमदनी के अनुमान पर रहेगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऐसी उम्मीद है कि कंपनियां पिछली तिमाही से शुरू हुई अपनी रफ्तार को दूसरी तिमाहीलगातार अच्‍छा रिटर्न चाहते है? इस फंड में लगा सकते हैं पैसा

(राजेश अभय) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) स्वतंत्र भारतीय वैज्ञानिक डॉ. अजय कुमार सोनकर ने मोती उत्पादन में अपने नये शोध से दुनिया को हैरत में डाल दिया है। अंडमान और निकोबार के वैज्ञानिक ने ‘सेल कल्चर’ के माध्यम से शीशे के फ्लास्क में मोती उत्पादन की तकनीक को सफलतापूर्वक विकसित करके ‘टिश्यू कल्चर’ के शोध में संभावनाओं के नये द्वार खोल दिये हैं। इससे पहले सोनकर ने दुनिया का सबसे बड़ा काला हीरा बनाने और भगवान गणेश के आकार का हीरा विकसित कर बड़ी उपलब्धियां हासिल की थीं। सोनकर का कहना हैनयी दिल्ली 17 अक्टूबर (भाषा) सरकार ने राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) समेत अपीलीय न्यायाधिकरण एनसीएलएटी में न्यायिक और तकनीकी सदस्यों के कुल 20 पदों के लिए आवेदन मांगे हैं। एनसीएलटी में 9 न्यायिक सदस्यों और 6 तकनीकी सदस्यों सहित 15 पदों पर नियुक्ति की जानी है। सरकार ने साथ ही राष्ट्रीय कंपनी कानून अपीलीय न्यायाधिकरण (एनसीएलएटी) में न्यायिक सदस्यों के 3 और तकनीकी सदस्यों के 2 पदों पर रिक्ति के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय द्वारा जारी सार्वजनिक नोटिस के अनुसार, ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 12 नवंबर है। सरकार हालसिप में क्यों करना चाहिए लंबे समय तक निवेश

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
बैकरेट स्कोरिंग कौशल

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड कोषों (ईटीएफ) में सितंबर में 446 करोड़ रुपये का निवेश आया। देश में त्योहारी सीजन के मद्देनजर मजबूत मांग के चलते निवेश का यह प्रवाह अभी जारी रहने की उम्मीद है। इससे पिछले महीने गोल्ड ईटीएफ में 24 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश आया था। एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के अनुसार, जुलाई में गोल्ड ईटीएफ से निवेशकों ने शुद्ध रूप से 61.5 करोड़ रुपये की निकासी की थी। गोल्ड ईटीएफ श्रेणी में अबतक शुद्ध रूप से 3,515 करोड़ रुपये का निवेश मिला है। सिर्फ जुलाई ऐसा

रूले यूटबेटालिंग

(राजेश अभय) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) स्वतंत्र भारतीय वैज्ञानिक डॉ. अजय कुमार सोनकर ने मोती उत्पादन में अपने नये शोध से दुनिया को हैरत में डाल दिया है। अंडमान और निकोबार के वैज्ञानिक ने ‘सेल कल्चर’ के माध्यम से शीशे के फ्लास्क में मोती उत्पादन की तकनीक को सफलतापूर्वक विकसित करके ‘टिश्यू कल्चर’ के शोध में संभावनाओं के नये द्वार खोल दिये हैं। इससे पहले सोनकर ने दुनिया का सबसे बड़ा काला हीरा बनाने और भगवान गणेश के आकार का हीरा विकसित कर बड़ी उपलब्धियां हासिल की थीं। सोनकर का कहना है

तीन पत्ती इंस्टॉल

निवेशकों के सोने का आकर्षण बढ़ा है. वित्त वर्ष 2020-21 में गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ईटीएफ) में निवेशकों ने 6,900 करोड़ रुपये डाले.

ऑनलाइन फुटबॉल सट्टेबाजी सुरक्षा

यूनिट लिंक्ड इंश्‍योरेंस प्‍लान यानी यूलिप और म्यूचुअल फंड कई मायनों में अलग होते हैं. यह और बात है कि कई लोग इन्‍हें एक जैसा प्रोडक्ट समझने की भूल कर बैठते हैं. आपको भी अगर ऐसी गलतफहमी है तो यहां हम इन दोनों के बीच कुछ महत्वपूर्ण अंतरों के बारे में बता रहे हैं.

खेल एक rds

(राजेश अभय) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) स्वतंत्र भारतीय वैज्ञानिक डॉ. अजय कुमार सोनकर ने मोती उत्पादन में अपने नये शोध से दुनिया को हैरत में डाल दिया है। अंडमान और निकोबार के वैज्ञानिक ने ‘सेल कल्चर’ के माध्यम से शीशे के फ्लास्क में मोती उत्पादन की तकनीक को सफलतापूर्वक विकसित करके ‘टिश्यू कल्चर’ के शोध में संभावनाओं के नये द्वार खोल दिये हैं। इससे पहले सोनकर ने दुनिया का सबसे बड़ा काला हीरा बनाने और भगवान गणेश के आकार का हीरा विकसित कर बड़ी उपलब्धियां हासिल की थीं। सोनकर का कहना है

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
स्टेटस लव हिंदी

(अभिषेक सोनकर) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) शीर्ष उद्योग निकाय एमआईएमए के मुताबिक ‘‘अगर कोयले की कमी बनी रही तो’’ घरेलू स्पॉन्ज आयरन उद्योग दिसंबर तिमाही में नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है।' स्पॉन्ज आयरन विनिर्माता संघ (एसआईएमए) के कार्यकारी निदेशक दीपेंद्र काशिवा ने कहा कि मौजूदा कोयला संकट के बीच जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान भारत के स्पॉन्ज आयरन उत्पादन में इससे पिछली तिमाही के मुकाबले 60 प्रतिशत तक गिरावट हो सकती है। जेपीसी के आंकड़ों के मुताबिक जनवरी-मार्च 2021 के मुकाबले अप्रैल-जून 2021 में स्पॉन्ज आयरन उत्पादन 70 प्रतिशत बढ़ा था। उन्होंने बिना कोई ब्योरा दिए कहा कि चालू

10cric असली है या नकली

(अभिषेक सोनकर) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) शीर्ष उद्योग निकाय एमआईएमए के मुताबिक ‘‘अगर कोयले की कमी बनी रही तो’’ घरेलू स्पॉन्ज आयरन उद्योग दिसंबर तिमाही में नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है।' स्पॉन्ज आयरन विनिर्माता संघ (एसआईएमए) के कार्यकारी निदेशक दीपेंद्र काशिवा ने कहा कि मौजूदा कोयला संकट के बीच जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान भारत के स्पॉन्ज आयरन उत्पादन में इससे पिछली तिमाही के मुकाबले 60 प्रतिशत तक गिरावट हो सकती है। जेपीसी के आंकड़ों के मुताबिक जनवरी-मार्च 2021 के मुकाबले अप्रैल-जून 2021 में स्पॉन्ज आयरन उत्पादन 70 प्रतिशत बढ़ा था। उन्होंने बिना कोई ब्योरा दिए कहा कि चालू

असली नकदी के साथ रम्मी

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) वित्त मंत्रालय जल्द ही निजीकरण के लिए तैयार केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों (सीपीएसई) की जमीन और गैर-प्रमुख संपत्तियों के हस्तांतरण और बाद में मौद्रिकरण के लिए एक कंपनी बनाने को मंत्रिमंडल की मंजूरी लेगा। निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के सचिव तुहिन कांता पांडेय ने कहा कि इन परिसंपत्तियों को संभालने के लिए कंपनी के रूप में एक विशेष इकाई (एसपीवी) की स्थापना की जाएगी, जिनका बाद में मौद्रिकरण किया जाएगा। पांडेय ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘हम एक ऐसी कंपनी के बारे में बात कर रहे हैं, जो कई सालों तक रहेगी, जो अतिरिक्त

स्पोर्ट्सबुक जमा मैच

(अभिषेक सोनकर) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) शीर्ष उद्योग निकाय एमआईएमए के मुताबिक ‘‘अगर कोयले की कमी बनी रही तो’’ घरेलू स्पॉन्ज आयरन उद्योग दिसंबर तिमाही में नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है।' स्पॉन्ज आयरन विनिर्माता संघ (एसआईएमए) के कार्यकारी निदेशक दीपेंद्र काशिवा ने कहा कि मौजूदा कोयला संकट के बीच जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान भारत के स्पॉन्ज आयरन उत्पादन में इससे पिछली तिमाही के मुकाबले 60 प्रतिशत तक गिरावट हो सकती है। जेपीसी के आंकड़ों के मुताबिक जनवरी-मार्च 2021 के मुकाबले अप्रैल-जून 2021 में स्पॉन्ज आयरन उत्पादन 70 प्रतिशत बढ़ा था। उन्होंने बिना कोई ब्योरा दिए कहा कि चालू