Baccarat जीतने के तरीके

Publishing time:2021-10-21 22:27:24

lovebet स्वागत प्रस्ताव Baccarat जीतने के तरीके 188bet सहयोगी,casumo जॉइन,लेवेगास स्वागत बोनस,lovebet खाता हटाएं,lovebet ऑनलाइन लॉगिन,lovebet.com मैच डु पत्रिकाएं,या शतरंज 8 4053 चौडफोंटेन,baccarat खेल उच्चारण,बैकारेट जीतने का तरीका,जीरो नेटफ्लिक्स पर दांव,कैसीनो ताज,कैसीनो x कोई जमा बोनस नहीं,कॉम क्रिकेट कप्तान,क्रिकेट ना,एस्पोर्ट्स अकादमी,एफए पोकर लीग,फुटबॉल लाभ और हानि सूचकांक,उत्पत्ति वैश्विक कैसीनो,यूरोपीय कप के लिए ऑनलाइन बेट कैसे लगाएं,आईपीएल रिकॉर्ड,जैकपॉट ज़िहंग,लाइव कैसीनो सट्टेबाजी यूआरएल,लॉटरी 5.7.2021,लकी खेल लॉटरी ऐप,एनबीए यू.एस. सट्टेबाजी अनुपात,ऑनलाइन ड्रैगन टाइगर गेम,ऑनलाइन पोकर या लाइव,परिमच न्यूनतम शर्त,पोकर किकर,रील मुक्त स्लॉट,नियम निसी अर्थ,रम्मी वाई बुराको रेगलस,स्लॉट मशीन ऑनलाइन,खेल आनंद,स्पोर्ट्सबुक उत्तर कैरोलिना,टेक्सास होल्डम पोकर ऑनलाइन,टीआरए फुटबॉल,बैकारेट वेबसाइट कहाँ है,याकूब 0 कैसीनो धोखा,ऑनलाइन कैसीनो भारत,क्रिकेट live,गोवा डे मटका जोड़ी चार्ट,तीन पत्ती अनलिमिटेड चिप्स,बकरा खस्सी करने का तरीका,बेताब घाटी,लॉटरी शपथ, .लगातार अच्‍छा रिटर्न चाहते है? इस फंड में लगा सकते हैं पैसा

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

लगातार अच्‍छा रिटर्न चाहते है? इस फंड में लगा सकते हैं पैसा

कम अस्थिरता वाले शेयरों का अच्छा करने की एक मुख्य वजह गिरावट को थामना है.
क्‍या लार्जकैप सेगमेंट से कम अस्थिर शेयर चुनकर लंबी अवधि में ज्यादा फायदा उठाया जा सकता है? आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल निफ्टी 100 लो वोलेटिलिटी 30 ईटीएफ एफओएफ के निवेश का यही आधार है. यह 2017 में लॉन्‍च ईटीएफ पर आधारित है. आइए, जानते हैं कि क्‍या इस तरह की रणनीति में वाकई कोई दम है.

सक्रिय रूप से मैनेज किए जाने वाले लार्ज कैप म्‍यूचुअल फंड के तौर-तरीकों का पिछले कुछ सालों में सभी को पता लग गया है. कुछ को छोड़ ज्यादातर स्कीमों ने प्रमुख सूचकांकों से कमतर प्रदर्शन किया है. इसने निवेशकों को मायूस किया है. कई निवेशकों ने कम लागत वाले इंडेक्‍स फंडों का रुख कर लिया है.

हालांकि, सीधे-सादे इंडेक्स फंड भी बाजार की रोजमर्रा की अस्थिरता से अछूते नहीं हैं. ज्यादा स्टेबल रिटर्न की चाहत रखने वाले निवेशकों के पास एक रास्ता है. वह है कम से कम अस्थिर शेयरों में चुनिंदा तरीके से निवेश करने का.

इसे भी पढ़ें : लंबी अवधि में क्‍या क्रिप्‍टोकरेंसी पैसा बनाने में मदद करेगी?

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल निफ्टी 100 लो वोलेटिलिटी 30 ईटीएफ एफओएफ इस तरह की पेशकश करता है. इसका पोर्टफोलियो 100 टॉप कंपनियों में से 30 सबसे कम अस्थिर शेयरों से बना है.

यह फंड दूसरे इंडेक्‍स फंडों से कितना अलग है? कम अस्थिरता पर जोर के साथ इसके इंडेक्‍स में वजन के लिहाज से 3 टॉप सेक्‍टर शामिल हैं. इनमें कंज्यूमर गुड्स, आईटी और ऑटोमोबाइल्‍स हैं. पारंपरिक तौर पर ये डिफेंसिव सेक्टर हैं.

एनबीएफसी के साथ बैंकिंग शेयर निफ्टी100 लो वोलेटिलिटी 30 इंडेक्‍स का महज 8.6 फीसदी हैं. इस इंडेक्‍स के टॉप शेयरों में पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, डाबर इंडिया, अल्ट्राटेक सीमेंट, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन और बजाज ऑटो प्रमुख हैं. न केवल इंडेक्‍स कम अस्थिरता वाला है बल्कि इसका वैल्यूएशन प्रोफाइल भी कम है.

इसे भी पढ़ें : मनी मार्केट म्यूचुअल फंडों के बारे में ये 5 बातें जान लें, होगा फायदा

ये सभी बातें इसके पक्ष में जाती हैं. लेकिन, क्‍या ये अच्‍छे प्रदर्शन की वजह बनेंगी? कारण है कि कम अस्थिरता या कम जोखिम को कम रिटर्न के साथ जोड़कर देखा जाता है. 2008 से लो वोलेटिलिटी इंडेक्‍स ने 13 में से 8 कैलेंडर वर्ष में प्रमुख सूचकांकों से बेहतर प्रदर्शन किया है. यह उस धारणा के उलट है जो कहती है कि कम जोखिम माने कम रिटर्न है.

master

कम अस्थिरता वाले शेयरों का अच्छा करने की एक मुख्य वजह गिरावट को थामना है. ओमनीसाइंस कैपिटल के सीईओ और चीफ इंवेस्‍टमेंट स्ट्रैटेजिस्ट विकास गुप्ता ने कहा, ''कम अस्थिरता एक तरह का नतीजा है. यह कंपनियों की मजबूत बुनियादी बातों के कारण हो सकता है. ये अनुमान योग्‍य ग्रोथ की पेशकश करती हैं. इनका फायदा स्‍पष्‍ट दिखाता है.''

कोई शेयर जितना ज्यादा गिरता है, उसे वापस अपने स्‍तर पर आने में उतना ही फायदा कमाने की जरूरत पड़ती है. अगर कोई शेयर 50 फीसदी टूटता है तो वापसी के लिए उसे 100 फीसदी चढ़ना होगा. कम गिरावट वाले शेयर को वापसी के लिए लंबी छलांग लगाने की जरूरत नहीं पड़ती है. हालांकि, कम अस्थिरता हमेशा अच्छा नहीं करती है. हर फैक्‍टर का अपना सीजन होता है. फैक्‍टर की टाइमिंग का सही अनुमान लगा पाना मुश्किल है.

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

रिटर्नस्थिर शेयरों में पैसा लगाने वाले फंडइंडेक्स फंडएफओएफलार्ज कैप म्‍यूचुअल फंडआईसीआईसीआई प्रू निफ्टी 100 लो वोलेटिलिटी 30 ईटीएफ

ETPrime stories of the day

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’
Strategy

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’

8 mins read
Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle
Aviation

Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle

10 mins read
Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.
Banking

Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.

15 mins read
लगातार अच्‍छा रिटर्न चाहते है? इस फंड में लगा सकते हैं पैसा

निवेशकों के सोने का आकर्षण बढ़ा है. वित्त वर्ष 2020-21 में गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ईटीएफ) में निवेशकों ने 6,900 करोड़ रुपये डाले.सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी.गेल देश का सबसे बड़ा हरित हाइड्रोजन संयंत्र लगाएगी

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बृहस्पतिवार को बहुस्तरीय संपर्क प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान को मंजूरी दी। इसमें कार्यान्वयन, निगरानी और समर्थन तंत्र शामिल हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 अक्टूबर को ‘लॉजिस्टिक’ लागत को कम करने और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने वाले बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए 100 लाख करोड़ रुपये के राष्ट्रीय मास्टर प्लान की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत ‘लॉजिस्टिक’ लागत में कटौती, कार्गो प्रबंधन क्षमता में वृद्धि और माल उतारने या लादने में लगने वाले समय को कम करने का लक्ष्य तय किया गया है। आधिकारिकनिवेशकों के सोने का आकर्षण बढ़ा है. वित्त वर्ष 2020-21 में गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ईटीएफ) में निवेशकों ने 6,900 करोड़ रुपये डाले.सरकार ने पीएम गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान को मंजूरी दी

सक्रिय रूप से मैनेज किए जाने वाले लार्ज कैप म्‍यूचुअल फंड के तौर-तरीकों का पिछले कुछ सालों में सभी को पता लग गया है. कुछ को छोड़ ज्यादातर स्कीमों ने प्रमुख सूचकांकों से कमतर प्रदर्शन किया है.भारतीय नियामकों का ऐसी करेंसी को लेकर रुख स्पष्ट नहीं है. उन्‍होंने साफ-साफ कुछ भी नहीं कहा है कि भारतीय इनमें ट्रेड करें या नहीं.लगातार अच्‍छा रिटर्न चाहते है? इस फंड में लगा सकते हैं पैसा

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


शतरंज कॉम
कैसीनो के खेल ppt
बी पोकर
लाइव मिनी गेम्स
10cric समर्थन
बैकरेट बिलिंग
कैसीनो एक लास वेगास
lovebet ई कॉन्फियावेल
उत्पत्ति कैसीनो समाचार
ई शतरंज का खेल
lovebet स्पोर्ट्सबुक
ऑनलाइन मोबाइल रम्मी गेम
casumo जिब्राल्टर लिमिटेड
ऑनलाइन गेम कोड
ई-स्पोर्ट्स एलईडी लाइट es45 किट
विश्व कप फुटबॉल खाता
बकरा खस्सी करने का तरीका
lovebet 7-11
ऑनलाइन अंतरराष्ट्रीय मनोरंजन मंच
ऑनलाइन वास्तविक धन जुआ नेटवर्क
झिंजियांग टाइम्स लॉटरी
betway गेम डाउनलोड
नवीनतम विश्व कप
क्रिकेट bat price
ऑनलाइन पैसे बनाएं mp3
सीबीएसई में बेस्ट ऑफ फाइव
मेरे पास सट्टेबाजी की नौकरियां