क्रिकेट cricbuzz

क्रिकेट cricbuzz

time:2021-10-21 22:47:13 कोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत? Views:4591

lovebet ओयिनी हकीदा क्रिकेट cricbuzz 10cric कैसीनो लॉगिन,betway व्हाट्सएप नंबर,लियोवेगास जौलुकलेंटेरी,lovebet अर्जेंटीना,lovebet एम रिसॉर्ट घंटे,lovebet निकासी सीमा,एक रम्मी कार्ड गेम,बैकारेट दा,बैकरेट कौशल डबल बेट और जीत-जीत,इनाम देने के लिए बेटिंग कंपनी रजिस्ट्रेशन,कैसीनो 5 अक्षर शब्द,कैसीनो श वारुम,क्लासिक रम्मी बोर्ड गेम,क्रिकेट जीके ट्रिक्स हिंदी में,डीए क्रिकेट अकादमी,यूरोपीय कप आज रात संभावना,फुटबॉल नवीनतम वेबसाइट,उत्पत्ति कैसीनो सीईओ,एचडी फ़ुटबॉल लाइव है,आईपीएल क्रिकेट,जैकपॉट नेपोलियन खेल,लाइव लाठी फ्रांस,लाइव रूले साइन अप बोनस,लॉटरी ट्राई,मिस्टेक कैसीनो बोनस कोड,ऑनलाइन कैसीनो पिन अप,ऑनलाइन पोकर नकद खेल रणनीति,पैरिमैच खाता सत्यापन,पोकर ड्रा नियम,पीटीवी स्पोर्ट्स,रॉयल एक्स वॉच,रमी पेटीएम कैश,स्लॉट मशीन केक,स्लॉट्सगेड 9 वैलø,स्पोर्ट्सबुक बोनस,टेक्सास होल्डम एल सरलामास,दुनिया का सबसे बड़ा बास्केटबॉल सट्टेबाजी नेटवर्क,रमी के नियम क्या हैं,विश्व प्रारंभिक शीर्ष 20 टूर्नामेंट अनुसूची,इलेक्ट्रॉनिक खेल hindi,कैसीनो के खेल mp3,गोवा 4,जोकर वॉलपेपर hd,फुटबॉल प्लेयर,बेटा डांस,लॉटरी कैसे लगाएं,स्पोर्ट्स फिल्म .कोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत?

सैलरी बढ़ाने के लिए बातचीत करना यूं भी आसान नहीं होता है. मौजूदा स्थितियों में तो यह काम और भी मुश्किल हो गया है.
सैलरी बढ़ाने के लिए बातचीत करना यूं भी आसान नहीं होता है. फिर चाहे आप अपनी कंपनी में मौजूदा बॉस से चर्चा कर रहे हों या फिर नई जॉब ऑफर के लिए वहां के प्रबंधन से. इस दौरान तनाव रहता ही है. मौजूदा स्थितियों में जब कोरोना की महामारी के कारण काफी लोगों को सैलरी में कटौती और नौकरी गंवाने तक का सामना करना पड़ा है तो यह काम और भी मुश्किल हो गया है. आपको अगर इन स्थितियों का सामना नहीं करना पड़ा है. लेकिन, अपनी मौजूदा सैलरी में बढ़ोतरी या ज्‍यादा पैसे वाली नौकरी चाहते हैं, तो यह संभव है. इसके लिए आपको कुछ चीजें करनी होंगी. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.

डेटा रखें तैयार
सबसे पहले आपको पूरे साल के दौरान किए गए कॉन्ट्रिब्‍यूशन को लिख लेना चाहिए. ये कॉन्ट्रिब्‍यूशन आपके कार्यक्षेत्र के अनुसार हो सकते हैं. मसलन, आपने सेल्‍स टारगेट पूरे किए हों, महत्‍वपूर्ण प्रोजेक्‍ट सफलता से निपटाया हो, अतिरिक्‍त जिम्‍मेदारी ली हो या कंपनी की कॉस्‍ट में अंतर पैदा किया हो इत्‍यादि. यह आपको सैलरी बढ़ाने के लिए अपना पक्ष रखने में मदद करेगा. आप बॉस के सामने साल का पूरा ब्‍योरा रख पाएंगे. इस तरह उनका फैसला हाल की घटनाओं पर निर्भर नहीं करेगा.

इसे भी पढ़ें : सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

मार्केट में अपनी वैल्‍यू जान लें
आपको अपनी स्किल्‍स का पैसा मिलता है. इस बात का पता करें कि आप जैसी स्किल रखने वाले लोगों को बाहर कितनी सैलरी मिल रही है. आपके अनुभव और स्किल्‍स से जुड़ी कितनी जॉब हैं. रिक्रूटमेंट कंसल्‍टेंट क्‍या आपको कॉल करते हैं और वे कितनी सैलरी ऑफर करते हैं.

कंपनी की जरूरत जानें
कोरोना के दौर में कंपनी की जरूरतों में बदलाव हुआ है. मुमकिन है कि जिस काम में आप बहुत अच्‍छे हों, उसमें कंपनी को लोगों की बहुत जरूरत न हो या उसमें काम घटा हो. देख लें कि आप कोर टीम का हिस्‍सा हैं या आपके बगैर ऑपरेशन चल सकते हैं.

तनाव कम करें
सैलरी पर बातचीत की जरूरत अमूमन साल में एक बार या फिर नौकरी बदलते वक्‍त पड़ती है. इस दौरान अगर आप तनाव में नहीं आते हैं तो अच्‍छा है. पर, ऐसा होता है तो अभ्‍यास जरूरी है. इसके लिए दोस्‍तों या परिवार के सदस्‍यों की मदद ले सकते हैं. अपने काम और जो सैलरी चाहते हैं, उस पर जब आप बार-बार बात करेंगे तो वास्‍तविक स्थिति आने पर तनाव कम रहेगा.

इसे भी पढ़ें : क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

सही समय चुनें
सैलरी बढ़ाने के लिए बॉस से बात करने का समय बेहद अहमियत रखता है. उस दिन ऐसी बात करना ठीक नहीं होगा जिस दिन उन्‍होंने लागत घटाने के लिए कुछ लोगों को बाहर किया हो या किसी प्रोजेक्‍ट को पूरा करने की डेडलाइन पास हो. अच्‍छा होगा कि ऐसी बातचीत टेलीफोन कॉल के बजाय आमने-सामने हो.

कमीशन और बोनस हैं ऑप्‍शन
सिर्फ वेतनवृद्धि विकल्‍प नहीं है. आप जितनी बढ़ोतरी चाहते हों, शायद कोई कंपनी उसका दोगुना देने के लिए तैयार हो सकती है. लेकिन, वह ईसॉप्‍स, बोनस या कमीशन के रूप में हो. उस स्थिति में पूछ लेना चाहिए कि ये कैसे काम करेंगे और इनका फायदा आप कैसे उठा पाएंगे.

पैसे के अलावा यह है विकल्‍प
अगर वेतन में बढ़ोतरी संभव नहीं है तो आप ऐसे दूसरे बेनिफिट देने के लिए कह सकते हैं जो आपके लिए मायने रखते हैं. इन पर कंपनी और आपकी सहमति होनी चाहिए. मसलन, आप बच्‍चे को स्‍कूल छोड़ने के लिए ऑफिस टाइमिंग को आधे घंटे शिफ्ट कराना चाहते हों. कोई अलग भूमिका चाहते हों या नए प्रोजेक्‍ट पर काम करने के इच्‍छुक हों.

(लेखक कर‍ियर कोच और मेंटर हैं.)

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.
(Disclaimer: The opinions expressed in this column are that of the writer. The facts and opinions expressed here do not reflect the views of www.economictimes.com.)

टॉपिक

सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीतकॉन्ट्रिब्‍यूशनडेटा रखें तैयारकाेराेना की महामारीवेतनवृद्धिरिक्रूटमेंट कंसल्‍टेंट

ETPrime stories of the day

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’
Strategy

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’

8 mins read
Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle
Aviation

Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle

10 mins read
Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.
Banking

Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.

15 mins read

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) विदेशी बाजारों में कमजोर रुख के बीच दिल्ली में बृहस्पतिवार को सोयाबीन तेल तिलहन, पामोलीन और सीपीओ तेल कीमतों में गिरावट आयी। जबकि जयपुर में सरसों के भाव 150 रुपये मजबूत होने से सरसों तेल-तिलहन में सुधार आया। मूंगफली और बिनौला सहित विभिन्न खाद्य तेल-तिलहन के भाव पूर्ववत बने रहे। बाजार सूत्रों ने कहा कि मलेशिया एक्सचेंज में दो प्रतिशत की गिरावट है जबकि बुधवार रात 3.5 प्रतिशत की तेजी दर्ज करने के बाद शिकागो एक्सचेंज में फिलहाल 1.4 प्रतिशत की गिरावट है। लेकिन दूसरी तरफ जयपुर के हाजिर बाजार में सरसों का भाव बृहस्पतिवार कोरोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.टीसीएस ने छह महीनों में दूसरी बढ़ाई सैलरी, जानिए क्या है वजह?

महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) जेएसडब्ल्यू स्टील ने बृहस्पतिवार को कहा कि 30 सितंबर को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ चार गुना से अधिक की वृद्धि के साथ 7,179 करोड़ रुपये रहा। लाभ में शानदार वृद्धि की वजह कंपनी की ऊंची आय है। कंपनी ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि उसने पिछले वित्त वर्ष 2020-21 की जुलाई-सितंबर तिमाही में 1,595 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हासिल किया था। समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की कुल आय एक साल पहले की समान अवधि के 19,416 करोड़ रुपये से बढ़कर 33,449 करोड़ रुपये होकितनी सेफ है आपकी जॉब? खतरों के इन 7 संकेतों के बारे में जान लें

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) कमजोर हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को घटाया जिससे वायदा कारोबार में बृहस्पतिवार को चांदी की कीमत 292 रुपये की गिरावट के साथ 65,315 रुपये प्रति किलो रह गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के दिसंबर डिलीवरी वाले वायदा अनुबंध का भाव 292 रुपये यानी 0.45 प्रतिशत घटकर 65,315 रुपये प्रति किलो रह गया। इस वायदा अनुबंध में 9,428 लॉट के लिये सौदे किये गये। वैश्विक स्तर पर, न्यूयार्क में चांदी का भाव 0.68 प्रतिशत की गिरावट के साथ 24.28 डालर प्रति औंस रह गया।नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) आईडीबीआई बैंक का शुद्ध लाभ 30 सितंबर को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 75 प्रतिशत बढ़कर 567 करोड़ रुपये हो गया।भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) नियंत्रित बैंक ने पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि (जुलाई-सितंबर) में 324 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था।हालांकि, तिमाही के दौरान बैंक की कुल आय एक साल पहले की समान तिमाही की तुलना में 10 प्रतिशत घटकर 5,000.64 करोड़ रुपये हो गयी। पिछले साल (जुलाई-सितंबर 2020) यह 5,569.35 करोड़ रुपये थी।निजी क्षेत्र के बैंक ने एक बयान में कहा कि जुलाई-सितंबर 2021 तिमाही के दौरान उसकी शुद्धहाजिर मांग से सोना वायदा कीमतों में तेजी

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
सट्टेबाजी की संभावना क्रॉसवर्ड सुराग

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.

वीआर रम्मीकल्चर

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) जेएसडब्ल्यू स्टील ने बृहस्पतिवार को कहा कि 30 सितंबर को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ चार गुना से अधिक की वृद्धि के साथ 7,179 करोड़ रुपये रहा। लाभ में शानदार वृद्धि की वजह कंपनी की ऊंची आय है। कंपनी ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि उसने पिछले वित्त वर्ष 2020-21 की जुलाई-सितंबर तिमाही में 1,595 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हासिल किया था। समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की कुल आय एक साल पहले की समान अवधि के 19,416 करोड़ रुपये से बढ़कर 33,449 करोड़ रुपये हो

शतरंज तुम

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बृहस्पतिवार को बहुस्तरीय संपर्क प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान को मंजूरी दी। इसमें कार्यान्वयन, निगरानी और समर्थन तंत्र शामिल हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 अक्टूबर को ‘लॉजिस्टिक’ लागत को कम करने और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने वाले बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए 100 लाख करोड़ रुपये के राष्ट्रीय मास्टर प्लान की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत ‘लॉजिस्टिक’ लागत में कटौती, कार्गो प्रबंधन क्षमता में वृद्धि और माल उतारने या लादने में लगने वाले समय को कम करने का लक्ष्य तय किया गया है। आधिकारिक

स्लॉट 303

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी गेल (इंडिया) लिमिटेड देश का सबसे बड़ा हरित हाइड्रोजन बनाने का संयंत्र लगाएगी। कंपनी का लक्ष्य कार्बन मुक्त ईंधन के साथ अपने प्राकृतिक गैस कारोबार को बढ़ाना है, इसी को ध्यान में रखकर हाइड्रोजन संयंत्र लगाने की योजना बनायी गयी है। गेल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मनोज जैन ने सेरावीक के इंडिया एनर्जी फोरम में कहा कि कंपनी ने इलेक्ट्रोलाइजर खरीदने के लिए एक वैश्विक निविदा जारी की है। उन्होंने कहा, ‘‘संयंत्र लगाने में 12-14

लूडो हमेशा के लिए

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) ‘पार्टिसिपेटरी नोट’ (पी-नोट) के जरिए सितंबर के अंत तक 97,751 करोड़ रुपये का निवेश किया गया। आने वाले समय में भी इस माध्यम से निवेश का प्रवाह सकारात्मक रहने की उम्मीद है। पी-नोट पंजीकृत विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) द्वारा उन विदेशी निवेशकों को जारी किए जाते हैं जो सीधे खुद को पंजीकृत किए बिना भारतीय शेयर बाजार का हिस्सा बनना चाहते हैं। हालांकि, उन्हें एक उचित प्रक्रिया से गुजरना होता है। भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के आंकड़ों के अनुसार, भारतीय

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
बैकरेट इलेक्ट्रॉनिक धोखा

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बृहस्पतिवार को बहुस्तरीय संपर्क प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान को मंजूरी दी। इसमें कार्यान्वयन, निगरानी और समर्थन तंत्र शामिल हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 अक्टूबर को ‘लॉजिस्टिक’ लागत को कम करने और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने वाले बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए 100 लाख करोड़ रुपये के राष्ट्रीय मास्टर प्लान की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत ‘लॉजिस्टिक’ लागत में कटौती, कार्गो प्रबंधन क्षमता में वृद्धि और माल उतारने या लादने में लगने वाले समय को कम करने का लक्ष्य तय किया गया है। आधिकारिक

बैकरेट एंटरटेनमेंट साइट फ्री

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) एसएंडपी ग्लोबल रेटिंग्स ने बृहस्पतिवार को टाटा स्टील, टाटा मोटर्स और जगुआर लैंड रोवर (जेएलआर) सहित टाटा समूह की पांच कंपनियों की रेटिंग में सुधार किया। यह टाटा समूह के मौजूदा प्रभाव के उसके पुनर्मूल्याकंन और होल्डिंग कंपनी टाटा सन्स से मिलने वाली 'असाधारण वित्तीय सहायता' की क्षमता को दर्शाता है। एसएंडपी ग्लोबल ने रेटिंग में बदलाव करते हुए कहा कि टाटा स्टील लि. और उसकी 100 प्रतिशत स्वामित्व वाली वित्तीय अनुषंगी एबीजेए इन्वेस्टमेंट कंपनी प्राइवेट लि. की रेटिंग को स्थिर परिदृश्य के साथ 'बीबी' से बढ़ाकर 'बीबीबी-' किया है। इसी तरह, टाटा मोटर्स लिमिटेड और